Biography of Neeraj Chopra Tokyo Olympics

A Biography of Neeraj Chopra Tokyo Olympics Gold winner in hindi, नीरज चोपड़ा द्वारा प्राप्त की गई अन्य उपलब्धियां

image source 

Neeraj Chopra Tokyo Olympic Gold winner family Background

 
हरियाणा के एक छोटे से गांव जिसका नाम थांदला है वहां के एक किसान सतीश कुमार और उसकी पत्नी सरोज देवी के घर पर 24 दिसंबर 1997 को एक बच्चे का जन्म हुआ जिसका नाम नीरज चोपड़ा है।
 
Neeraj Chopra Age and weight
नीरज चोपड़ा की ऊंचाई 6ft 0in (182) है और उनका वजन 81 किलोग्राम है।

 
Neeraj Chopra (tokyo Olympic Gold winner) बचपन से बहुत खाता पीता था, जिसके वजह से वह बचपन से ही बहुत मोटा था। जिसके वजह से उसके पिताजी ने उसके मोटापे को कम करने के लिए, उसको GYM Join करवाया, ताकि उसका मोटापा कम हो सके।
 
पानीपथ  Sports GYM ही वह जगह है, जहां पर नीरज ने पहली बार जैवलिन देखा, उसको छुआ और उसको चलाने के बारे में सोचा, और वहां पर ही Neeraj Chopra (tokyo Olympic Gold winner) ने अपने बेहतर भविष्य के लिए जैवलिन उछाल दिया, और जब उसने पहली बार जैवलिन उछाला तब ही उसने यह फैसला कर लिया कि, अब उसे यह Sport करना ही करना है। 
 
और जब उसके कोच ने उसको जैवलिन चलाते हुए देखा तो कहा, इसमें एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी बात है दूसरों से बहुत अलग, लेकिन नीरज को पूरी तरह से निपर्ण होने के लिए, जिन जरूरी सुविधाओं की जरूरत थी वह सुविधा उनके पास नहीं थी।
 
Neeraj Chopra Indian army
तब कुछ समय बाद नीरज के लिए Indian army संकट मोचन बनकर आई, उसके बाद 2016 में, Neeraj Chopra Indian army को Join कर लिया, लेकिन उसका पूरा फोकस जैवलिन पर ही था, उसके बाद अच्छी नौकरी और अच्छी ट्रेनिंग मिलने से, उसके एक अच्छे international level के एथलेटिक्स बनने का सपना एक बार फिर जाग उठा।
 
लेकिन एक बार फिर उसकी एथलेटिक्स बनने का सपना टूटता हुआ नजर आने लगा, जब अपने दोस्तों के साथ बास्केटबॉल खेलते समय उसकी कलाई टूट गई।
 
नीरज चोपड़ा द्वारा प्राप्त की गई अन्य उपलब्धियां 
 
Neeraj Chopra in South Asian Game (Guwahati)
 
और अपने कलाई की चोट के वजह से तीन – चार महीने उसको स्पोर्ट्स से दूर रहना पड़ा, उसके बाद जब वह वापस ठीक हुए, तब पहली बार उन्होंने 82.23 मीटर जैवलिन फेंक कर, अपना पहला गोल्ड मेडल जीता, 2016 के साउथ एशियन गेम (गुवाहाटी) में  82.23 मीटर तक Neeraj Chopra (tokyo Olympic Gold winner) ने जैवलिन फेंक कर अपना पहला इंटरनेशनल गोल्ड मेडल जीता।
 
Neeraj Chopra in IAAF Game
 
उसके बाद 2016 IAAF में World championship under 20 (Poland) मे, junior World record बनाया, और अपना दूसरा गोल्ड जीता। 
 
Neeraj Chopra in commonwealth game
 
उसके बाद उन्होंने 2017 की Asian athletics championship (Guwahati) अपने नाम करने के बाद, नीरज ने 2018 में commonwealth game में डेब्यू किया।
और डेब्यू करने के साथ 86.47 मीटर की दूरी तक जैवलिन फेंक कर, commonwealth game में गोल्ड जीता, और वह commonwealth game में गोल्ड जीतने वाले पहले भारतीय भी बन गए।
 
Neeraj Chopra Jakarta Asian Game
 
और फिर जकार्ता में Asian Game के मैच में उन्होंने 88.06 मीटर फेका और कीर्तिमान सुधारते हुए, Gold Medel हंसिल किया, 
 
और उनके हौसले और उनका खेल देखकर, उसके कोच को पूरा भरोसा था उस पर कि, वह जल्दी ही Olympic के लिए क्वालीफाई कर जाएगा,
लेकिन फिर एक बार उनकी दाएं कोहनी में चोट आने से, फिर एक बार भारत का सपना कमजोर पड़ने लगा, लेकिन इस बार Neeraj Chopra (tokyo Olympic Gold winner) बहुत जल्दी अपने चोट से उभर गए।
 
और उसी साल नीरज South Africa athletics Central North East meet में अपना जगह पक्का कर लिया, 
 
उसके बाद अर्जुन पुरस्कार जीतकर वह 130 करोड़ भारतीय की आश बन गए की वह Olympic में भारत को गोल्ड दिला सकते हैं, और उन्होंने ऐसा किया और टोक्यो ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम रोशन कर दिया। और वो Neeraj Chopra (tokyo Olympic Gold winner) के नाम से जाने, जाने लगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: