Baat nahi karne ki shayari

Baat nahi karne ki shayari in Hindi 2022, अरे मैने तो सिर्फ…

Hello Friends This is Shubham Anand, दोस्तों हमारे जीवन में बात का बहुत बड़ा स्थान होता है, कुछ-कुछ ऐसी बातें होती है, जिससे हम बहुत खुश हो जाते हैं, और कुछ ऐसी भी बातें होती है, जो हमें बहुत दुख पहुंचाता है, जो इंसान अपनी बातों से हमें दुख पहुंचाता है, हमें उससे बात करने का बिल्कुल मन नहीं करता, और आप Baat nahi karne ki shayari गूगल पर ढूंढ़ते हैं।

True Line

सोचो कैसा लगता होगा तब जब आप सिर्फ किसी एक इंसान से मतलब रखते हो, और वही आपसे बात करना बंद कर दे,

आप सिर्फ उसकी खुशी के लिए उससे बात करना बंद कर देते हो, आप अपने सारे दुखों को उसके खुशी के लिए, अपने अंदर दबा के रख लेते हो, जबकि आपको पता होता है, उससे बात किए बिना रहना बहुत मुस्किल होगा, लेकिन उसकी खुशी के लिए आप उसके सामने, बहुत अच्छे से मुस्कुरा देते हो।

इस पोस्ट में हम आपको बहुत ही अच्छी अच्छी, Baat nahi karne ki Shayari ( in hindi ) देने वाले हैं, जिसको आप अपने WhatsApp Status, Facebook Status में लगा के, या किसी को Chat में बोल के, उनको यह अनुभव करा सकते हैं, कि उन्होंने जो अपनी बातों से, आपको दुख पहुंचाया है, वह बहुत गलत है। यह Baat nahi karne ki shayari आपको जरूर पसंद आएगी। हमारे Site में आपको बहुत ही अच्छी Love Story और भी ढेड़ सारी Shayari भी मिलेगी। आप चाहें तो यहाँ से बहुत अच्छे अच्छे WhatsApp Groups और Facebook Groups से जुड़ सकते हैं।

एक बहुत ही अच्छी लाइन है, जिसे आप अपने Some One special को बोल सकते हो,

भटके हुए मुसाफिर का बसेरा बन गया, मेरी अंधेरी रात का तू सबेरा बन गई, मेरी जिदंगी में आई है तू कुछ इस तरह, जैसे कब्र में पारी लाशों को सांसों का सहारा मिल गया।

Best baat nahi karne ki shayari

वजह क्या थी तेरे रूठ जाने की,

या कसूर सिर्फ मेरा था,

अरे मैने तो सिर्फ तेरी बात मानी थी,

बात ना करने का फैसला तो सिर्फ तेरा था।

Vajah kya thi tere ruth jane ki, Ya kasoor sirf mera tha, Are maine to sirf teri baat mani thi, Baat na marne ka faisla to sirf tera tha.

बात नहीं करनी कोई बात नहीं,

प्यार नहीं है कोई बात नहीं,

मैं बुरी हूं तुम्हारे नजर में कोई बात नहीं,

पर सोचना जरूर क्या मैने कुछ,

गलत किया है तुम्हारे साथ,

अगर ये भी न सोच पाओ, तो भी कोई बात नहीं।

Baat nahi karni koi baat nahi, Pyar nahi karna koi baat nahi, Mai buri hu tumhre najar me to bhi koi baat nahi, Par ye sochna jarur kya maine kuch.. Galat kiya hai tumhre sath, Agar ye bhi na soch pao, To bhi koi baat nhin.

Baat nahi karne ki shayari

जो समझना है समझो,

बात नहीं करना तो मत करो,

रहना है तो साथ रहो,

नहीं रहना तो बेसक चले जाओ,

क्योंकि Zindigi ने कुछ ऐसे सबक सिखाए हैं,

की अब किसी भी बात से मुझे फर्क नहीं परता।

Jo samjhna hai samjho, Baat nahi karna to mat karo, Rahna hai to sath raho, Nahi rahna to besak chale jao, Kyoki Zindigi ne kuch aise sabak sikhaye hain, Ki ab kisi bhi baat se mujhe fark nahi parta.

बात करने के लिए समय नहीं,

मन होना चाहिए,

समय अपने आप मिल जाता है।

Baat karne ke liye time nahi, Man hona chahiye, Time to apne aap mil jata hai.

Baat nahi karne ki shayari

हां हम बात नहीं करते अब,

और ये मुझे हर्ट भी नहीं करता,

पता है क्या हर्ट करता है,

ये की उसे कोई फर्क ही नहीं परता है,

मेरे बात करने या ना करने से।

Haan ham baat nahi karte ab, Aur ye mujhe hurt bhi nahi karta, Pta hai hurt kya karta hai, Ye ki use fark hi nhi parta hai, Mere baat karne ya na karne se.

Baat nahi karne ki shayari

आपको बात नहीं करनी तो मत करो,

लेकिन आप भी मुझे नहीं रोक सकते,

आपको प्यार करने से,

क्योंकि ये तो प्यार है कोई सौदा नहीं,

जो दोनो को ही करना पड़े।

Aapko baat nahi karni to mat karo, Lekin aap bhi mujhe nhi rok sakte, Apko pyar karne se, Kyoki ye to pyar hai koi sauda nahi, Jo dono ko hi karna pare.

अब उससे बात नहीं करनी,

लेकिन अब बात उसी की करनी है,

पूरा दिन दे दिया ए Zindigi तेरे नाम,

लेकिन रात सिर्फ उसी की करनी है।

Ab usse baat nahi karni, Lekin ab baat usi ki karni hai, Pura din de diya aye Zindagi tere naam, Lekin raat bas usi ki karni hai.

Baat nahi karne ki shayari

मेरा साथ गवारा नहीं तुम्हे,

कोई बात नहीं!मेरे घर में तुम्हारा गुजारा नहीं,

कोई बात नहीं!पर मैं तो तुम्हारा था न हमेसा से,

जिसके बिना तुम रह नहीं सकती थी,

और क्या कहा 👂मैं भी तुम्हारा नहीं,

चलो कोई बात नहीं।

Mera sath gavara nahi tumhe, koi baat nahi! Mere ghar me tumhra gujara nahi, koi baat nhi! Par main to tumhra tha na hmesa se, Jiske bina tum rah nahi sakti thi, Aur kya kaha tumne? Mai bhi tumhra nahi, Chalo koi baat nahi!

Baat nahi karne ki shayari in Hindi

Baat nahi karne ki shayari

अब ना रप्लाई चाहिए ना ही तेरा साथ,

तो प्लीज अपना ध्यान रखना,

मुझे नहीं करनी अब तुझसे बात,

Ab na reply chahiye, na hi tera sath, To please apna dhyan rakhna, Mujhe nahi karni ab tujhse baat.

बात करने के लिए तड़पा रहे हो,

तड़पा लो!पर याद रखना,

एक दिन मेरी यही आवाज सुनने के लिए,

तुम तरसते रह जाओगे।

Baat karne ke liye tadpa rhe ho, Tadpa lo! Par yaad rakhna meri ek baat, Ek din meri yahi aawaj sunne ke liye, Tum taraste rah jaoge.

Baat nahi karne ki shayari

अब तू भी तंग आ गया है,

और मैं भी खुश नहीं,

चलो यार अब ऐसा करते हैं,

अब से हम लोग बात नहीं करते हैं।

Ab tu bhi tang aa gyi hai, Aur main bhi khus nahi hu, Chalo ek kaam karte hai, Ab se ham log baat nahi karte hain.

Baat nahi karne ki shayari

पता है मुझे की अब हम लोग बात नहीं करते,

लेकिन बात नहीं करने का यह मतलब तो नहीं,

कि हम लोग एक दूसरे से प्यार नहीं करते।

Pata hai mujhe ki ab ham log baat nahi karte, lekin baat nahi karne ka yah matlb to nahi, Ki ham log ek dusre se pyar nahi karte hain.

बेवजह किसी से बात नहीं करते,

बड़ों के बोलने से पहले शुरुआत नहीं करते,

बड़े हो तुम लेकिन बाप नहीं,

कहने को यह हम भी कह सकते हैं,

लेकिन आज ही मम्मी ने कहा था,

कि अच्छे बच्चे गंदी बात नहीं करते।

Bevajah kisi se baat nahi karte, Bado ke bolne se pahle suruwat nahi karte, Bade ho tum Lekin baap nahi, Kehne ko yah ham bhi keh sakte hai, Lekin mummy ne aaj hi kha tha, Ki achhe bachhe gandi baat nahi karte.

Baat nahi karne ki shayari

अगर बात नहीं करनी होती है ना,

तो यार सामने से बता दिया करो,

मैं एक बार में समझ जाऊंगा,

बस तुम इग्नोर मत किया करो,

क्योंकि तुम्हारी खुशी तो,

सबसे ज्यादा जरूरी है मेरे लिए, 

फिर भले ही आखिर में मेरी खुशी रहे ना रहे।

Agar baat nahi karni hoti hai na, To yaar samne se bata diya karo, Main ek baar me samjh jaunga, Bas tum ignore mat kiya karo, Kyoki tumhari khusi Sabse jada jaruri hai mere liye, Fir bhale hi akhir me meri khusi rahe na rahe.

मेरे लिए सिर्फ तुम्हारी खुशी जरूरी है,

मेरा बात करना नहीं।

क्योंकि तुमसे बात न कर के मैं रह लूंगा,

लेकिन तुम्हारे दुखों की वजह बनाकर,

मैं जी ही नहीं पाऊंगा।

Mere liye sirf tumhri khusi jaruri hai, Mera baat karna nahi, Kyoki tumse baat n kar ke mai rah lunga, Lekin tumhre dukhon ki vajh bankar, Mai ji hi nahi paunga.

Baat nahi karne ki shayari

न जाने यह कैसा तरीका है,

तुम्हारा हमसे प्यार करने का,

कि तुम्हारा मन ही नहीं करता है,

मुझसे बात करने का।

Na jane yah kaisa tarika hai, Tumhra hamse pyar karne ka, Ki tumhra man hi nahi karta hai, Mujhse baat karne ka

Baat nahi karne ki shayari

ना करें मुझसे कोई बात मुझे कोई गम नहीं,

मुझे आईने में मिलता है एक शख्स,

जो बिल्कुल मेरे जैसा दिखता है,

जो इस दुनियां में किसी से कम नहीं।

Na kare mujhse koi baat, mujhe koi gam nahi, Mujhe aaiye men milta hai ek saksh, Jo hu bahu mere jaisa dikhta hai, Jo es duniya me kisi se kam nahi. 

Baat nahi karne ki shayari

इस दुनिया में कुछ भी करना,

लेकिन किस से बात करने की,

आदत मत डालना क्योंकि,

वह तो आपसे बात करना बंद कर देता है,

लेकिन सबसे ज्यादा दुख आपको होता है।

Es duniya me kuch bhi karna, Lekin kisi se baat karne ki adat mat dalna kyoki… vo to apse baat karna band kar deta hai, lekin sabse jada dukh apko hota hai.

Baat nahi karne ki shayari

मेरे दिल का हाल मुझे बताना नहीं आता,

किसी को इस तरह तड़पना नहीं आता,

सुनना तो चाहते है आपकी आवाज़,

मगर बात करने का कोई बहाना नहीं आता।

Mere dil ka haal mujhe batana nahi aata, Kisi ko es tarah Tadpana nahi aata, Sunna to chahte hain apki aawaj, magar baat karne ka koi bahana nahi aata.

हम आशा करते हैं यह Baat nahi karne ki shayari आपको जरूर पसंद आयी होगी।

1 thought on “Baat nahi karne ki shayari in Hindi 2022, अरे मैने तो सिर्फ…”

  1. Thank you to share this great post and I appreciate the book’s chapter structure and the introduction. I think it’s a really creative way to start a post, whether it’s an online article or blog post.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: